पटना: बिहार के गया जिले के राजेन्द्र आश्रम स्थित कांग्रेस पार्टी कार्यालय में गुरुवार को बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास के अभिनंदन समारोह का आयोजन किया गया. इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने उनका स्वागत किया. वहीं, कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आज देश के किसानों को बल देने की आवश्यकता है. पार्टी 25 जनवरी से किसान सत्याग्रह शुरू करने जा रही है, जो राज्य स्तर से प्रखण्ड स्तर पर शुरू किया जाना है. इसके पूर्व पद यात्रा की जा रही है.

कार्यक्रम के दौरान उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए पूछा कि क्या किसानों की मांग पूरा करने से उनकी इज्जत चली जाएगी? उन्होंने कहा कि पीएम रावण के पथ पर चल रहे हैं. लेकिन जब उन्होंने राम के नाम पर वोट मांगा है तो वो राम बनकर दिखाएं. यहां तक पहुंचने के बाद वो अब राम के नाम को बदनाम न करें. आगे उन्होंने कहा कि आज ये लोग किसानों को देशद्रोही कह रहे हैं. तो क्या देश में आजादी लाने वाले यही लोग थे? 26 जनवरी को गांधी जी और तिरंगा को जिसने अपमानित करने का काम किया वो देश द्रोही हैं. लेकिन उन्हें क्यों छोड़ा जा रहा है? क्या पुलिस की सुरक्षा कमजोर है? सरकार को इसका जबाब देना चाहिए.

उन्होंने कहा कि आज बिहार में किसानों को एमएसपी का लाभ नहीं मिला रहा है. वर्षों से चली आ रही गन्ना की कीमतों पर आज भी किसान गन्ना बेचने को मजबूर हैं. कृषि कानून के संबंध में उन्होंने कहा कि यह देश और किसान को गुलाम बनाने का कानून है. अब वो समय दूर नहीं कि बिहार के किसान दिल्ली तक पैदल जाएंगे. यह रावनरूपी व्यवहार वाले पीएम किसानों को कीड़ा-मकोड़ा समझ रहे हैं.

बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यह लंपट लोग राम के नाम पर वोट मांगने आते हैं. रामभक्त और राम को पूजने वाले तो किसान भी हैं, तो ये उनकी बात क्यों नहीं मान रहे ? उन्होंने कहा कि ये सारी मीडिया को गोद मे लेकर चलने वाली यह सरकार है. ऐसे में इस सरकार के विरोध में 25 फरवरी से सत्याग्रह, जेल भरो आंदोलन, आमरण अनशन, धरना प्रदर्शन, बिहार बन्द सब कुछ किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here