नई दिल्ली: किसान आंदोलन पर विदेशी हस्तियों के ट्वीट पर गृहमंत्री अमित शाह ने पलटवार किया है. उन्होंने विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव के बयान को कोट करते हुए कहा कि कोई प्रोपगेंडा देश की एकता को कम नहीं कर सकता है. उन्होंने कहा कि कोई प्रोपेगेंडा देश को ऊंचाईयों पर जाने से नहीं रोक सकता है. भारत की प्रगति के लिए सभी एकजुट हैं.

बता दें कि पॉप गायिका रिहाना के बाद ग्रेटा थनबर्ग, अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस की भांजी सहित अंतरराष्ट्रीय समुदाय के अनेक लोगों ने किसानों के प्रदर्शनों का समर्थन किया है. इसपर विदेश मंत्रालय ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. विदेश मंत्रालय ने कहा, ”प्रदर्शन के बारे में जल्दबाजी में टिप्पणी से पहले तथ्यों की जांच-परख की जानी चाहिए.” एमईए ने कहा कि कि सोशल मीडिया पर हैशटैग और सनसनीखेज टिप्पणियों की ललक न तो सही है और न ही जिम्मेदाराना है.

मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय पॉप गायिका रिहाना ने ट्विटर पर एक खबर को शेयर करते हुए लिखा था, ‘‘हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं.’’ वहीं जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने ट्वीट किया, ‘‘ हम भारत में किसानों के आंदोलन के प्रति एकजुट हैं.’’

अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस की भांजी मीना हैरिस ने कहा,‘‘यह महज संयोग नहीं है कि अभी एक माह भी नहीं हुआ कि दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र पर हमला हुआ और जब हम बात कर रहे हैं उस वक्त सबसे बड़े लोकतंत्र पर हमला हो रहा है.’’

विदेशी हस्तियों के ट्वीट पर बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार, अजय देवगन, सुनील शेट्टी, करन जौहर और कंगना रनौत ने भी प्रतिक्रिया दी है.

बता दें कि तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान पिछले करीब 70 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं. यहां सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस ने किलेबंदी की है. सरकार ने यहां पर इंटरनेट सेवा रोक दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here